हिमाचल में 2 बस खाई में गिरीं, 30 की मौत की आशंका; 12 बॉडी बरामद

   
92   पटक पढिएको

शिमला/देहरादून. हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही बारिश की वजह से मंडी-पठानकोट नेशनल हाईवे पर शनिवार रात हुई लैंडस्लाइड की चपेट में 2 बस आ गईं। इस हादसे में 30 लोगों की मौत की आशंका है। अभी तक 12 बाॅडी बरामद हो गई हैं। खाई में गिरीं दोनों बसों में से एक मलबे में दबी है। रेस्क्यु किया जा रहा है। राज्य के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर जीएस बाली का कहना है कि मौत का आंकड़ा 50 तक हो सकता है। उधर, उत्तराखंड में भी लैंडस्लाइड की घटनाओं 3 लोगों की मौत हो गई। इनके अलावा उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, बंगाल मेघालय में भी बारिश-बाढ़ की वजह से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। एक बस मनाली से कटरा और दूसरी मनाली से चंबा जा रही थी​...

हिमाचल प्रदेश

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, स्पेशल सेक्रेटरी (डिजास्टर) डीडी शर्मा ने कहा कि एक बस मनाली से कटरा और दूसरी मनाली से चंबा जा रही थी। रास्ते में चाय-नाश्ते के लिए इन्हें कोत्रुपी में रोका गया था। उसी वक्त लैंडस्लाइड हुई, जिससे रोड समेत दोनों बसें करीब 800 मीटर नीचे खाई में चली गईं। इनमें से एक बस अभी भी पूरी तरह मलबे में दबी हुई है। 
- बताया जा रहा है कि मलबे में दबी बस में 30-40 यात्री थे। इनके बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। आला अफसर मौके पर पहुंच गए हैं। आर्मी और एनडीआरएफ की टीमें मलबे को हटाने में जुटी हैं।

- डीजीपी सोमेश गोयल ने कहा कि शुरुआत सूचना के मुताबिक मनाली से कटरा जा रही वॉल्वो बस में 8 और दूसरी बस में 47 पैसेंजर थे।

- अभी तक 12 बॉडी बरामद की गई हैं। इनमें चंबा जाने वाली बस के ड्राइवर और कंडक्टर भी शामिल हैं।

मोदी ने दिया हर संभव मदद का भरोसा

- घटना पर नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी ने हादसे में मारे गए लोगों के प्रति शोक जताया है। हादसे के बाद पीएम ने ट्वीट किया कि एनडीआरएफ की टीम मौके पर रवाना हो रही है। हर संभव मदद की जाएगी।

- राज्य में मनाली से औट जाने वाले नेशनल हाईवे नंबर 21 पर भी शनिवार को लैंडस्लाइड हुई, जिसमें 5 लोगों की मौत हुई है।

हिमाचल में ऐसा तीसरा हादसा

- हिमाचल में ऐसा यह तीसरा हादसा है। 1988 में शिमला के मटियाना में एक बस लैंडस्लाइड में दब गई थी, जिसमें 45 लोगों की मौत हुई थी। 1994 में कुल्लू के लुग्गर हाटी में भी ऐसा ही हादसा हुआ था, जिसमें 42 लोगों की मौत हुई थी।

उत्तर प्रदेश

बस्ती में सरयू में कटान तेज, 10 से ज्यादा गांवों पर खतरा
- उधर उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में सरयू नदी का कटान तेज होने से आसपास के इलाकों के 10 गांवों में खतरा पैदा हो गया। इससे 150 एकड़ से ज्यादा खेती की जमीन पर पानी भर गया है। सरयू की बाढ़ में 5 गांव घिरे हैं। यह खतरे के निशान से करीब आधा मीटर ऊपर बह रही है।

बिहार

कोसी नदी उफान पर, 171 गांव प्रभावित

- बिहार के में हो रही भारी बारिश की वजह से शनिवार को वाल्मीकिनगर बराज से 2 लाख और कोसी बराज से 2 लाख 80 हजार 225 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इससे गंडक और कोसी नदियां उफान पर हैं। सुपौल के सरायगढ़ , मरौना, बसंतपुर समेत कई ब्लॉक की 30 पंचायतों के 71 गांव में बाढ़ का पानी फैल गया है। बारिश-बाढ़ की वजह से 310 कच्चे मकान ढह गए हैं।

- आफिशियल सोस के मुताबिक, इलाके में 171 नावों से रेस्क्यु ऑपरेशन चलाया जा रहा है। प्रभावित इलाकों के 2350 लोगों सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

- पश्चिम चंपारण और सुपौल जिलों में निचले इलाकों के 171 गांव में बाढ़ का पानी भर गया है। यहां रहने वाले लोगों ने ऊंचे और सुरक्षित स्थानों पर पनाह ली हुई है। वाल्मीकिनगर टाइगर रिजर्व के जंगलों में भी बाढ़ का पानी भर गया है।

बंगाल
58 हजार लोग प्रभावित, चाय के 100 बागानों में भरा पानी

- वेस्ट बंगाल में भी बाढ़ से हाल बेहाल हैं। ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि राज्य के नॉर्थ के पांच जिलों में चाय के करीब 100 बागान पानी में डूब गए हैं। कूच बेहार, नॉर्थ दिनाजपुर, अलीपुरदुआर, जलपाईगुड़ी और दार्जिलिंग बाढ़ की चपेट में हैं। 
- उन्होंने कहा कि बाढ़ प्रभावित इलाकों मंे रेस्क्यु ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है और वे मंत्रियों और अफसरों के साथ लगातार संपर्क में हैं। 
- कृषि मंत्री राजिब बनर्जी ने कहा कि कंट्रोल रूम खोल दिया गया है और वे खुद पूरे हालात पर नजर बनाए हुए हैं। 
- राज्य के डिजास्टर मैनेजमेंट मिनिस्टर जावेद खाने ने कहा कि अलीपुरदुआर, जलपाईगुड़ी और कूच बेहार जिलों में 58 हजार लाेग बाढ़ से प्रभावित हैं।

तपाईको प्रतिक्रिया

स्थानीय चुनाव बिशेष

बन्द रहेका बिचिकाली र कृषि औजार पुनः संचालनमा ल्याउनु नै मेरो प्रमुख उदेश्य  उम्मेदवार सर्राफ

बन्द रहेका बिचिकाली र कृषि औजार पुनः संचालनमा ल्याउनु नै मेरो प्रमुख उदेश्य  उम्मेदवार सर्राफ

बिरगञ्ज महानगरका टोलबासी भन्छन बिकाश हुन्छ भन्ने कुरामा बिशवाश लागदैन

राम मण्डल मंसिर ४ बीरगञ्ज  बिरगञ्ज महानगरका टोलबासी भन्छन बिकाश हुन्छ भन्ने कुरामा बिशवाश लागदैन

उम्मेदवारले समाजमा गरेको लगानी, योगदान र चरित्रको आधारमा मात्र मतदान गरौं उम्मेदवार सर्राफ

उम्मेदवारले समाजमा गरेको लगानी, योगदान र चरित्रको आधारमा मात्र मतदान गरौं उम्मेदवार सर्राफ

अन्तराष्ट्रिय

उत्तर कोरियाले जापानतर्फ फेरि अर्को मिसाइल छोड्यो

उत्तर कोरियाले राजधानी प्योङयाङबाट पूर्वी दिशामा जापानतर्फ फेरि एक मिसाइल छोडेको छ ।

मुम्बईमा भवन भत्कँदा ११ को मृत्यु

मुम्बईमा भवन भत्कँदा ११ को मृत्यु

अमेरिकी सैन्य अखडामा कोरियाले आक्रमण गर्ने चर्चा

उत्तर कोरियाले प्रशान्त महासागरमा अमेरिकी स्वामित्वमा रहेको गुआम टापुमा हमला गर्ने तयारी गरिरहेको उत्तर कोरियाली समाचार संस्थाहरुले जनाएका छन् ।


विचार/ब्लग

नेपाल प्रहरीको उदाउँदो किरण: सर्बेन्द्र खनालको आगामि यात्रा

श्रावन ०५ बिहीवार, हेटौंडा । गृह मन्त्रालयका बढुवा समितिले भर्खरै गरेको एस.एस.पि.को बढुवा सिफारीसमा १५ जना प्रतिस्पर्धीलाई उछिन्दै कार्यसम्पादनको आधारमा डि.आई.जि.को बढुवा सिफारीसमा १ नम्बरमा पर्न सफल हुनु भएको छ ।